Tag: मिर्ज़ा ग़ालिब शायरी इन हिंदी
0
रफ्तार जिंदगी की कुछ यू बनाए रखें
1

रफ्तार जिंदगी की कुछ यू बनाए रखेंके दुश्मन आगे निकल जाए पर दोस्त कोई पिछे ना छूटेछोड़ दो अब उससे वफा की उम्मीद गालिब जो रुला सकता है वह भुला भी सकता ...