हिंदी

नयी और पुरानी हिंदी शायरी का कलेक्शन, आप इन केटेगरी के बारे में पड़ सख्ते हो इनमे से कुछ है जैसे दर्द, प्यार, फ्रेंडशिप, गम, ज़िंदगी, तन्हाई और गम

0
चला है सिलसिला
2

चला है सिलसिला कैसा ये रातों को मनाने का तुम्हें हक़ दे दिया किसने दियों के दिल दुखाने का इरादा छोड़िये अपनी हदों से दूर जाने का ज़माना है ज़माने की ...

0
जलो ए जलने वालों
2

https://www.youtube.com/embed/Na6gGwrFHbY जलो ए जलने वालोंमुझसे तुम खूब जलोजलो मेरे काम से जलोमेरे रुतबे से जलोमेरी हैसियत से जलोमेरी पहुंच से जलोमेरी ...

0
वो कौन है
0

https://www.youtube.com/embed/4xBEyJK6BfY वो कौन है जोमोहब्बत के बाज़ार में तराज़ू लेके आए हैंउनसे कह दो कि सच्ची मोहब्बत का कोई मोल नही होताऔर मोहब्बत ...

0
Jab mujhse Mohabat hi nahi
0

Jab mujhse Mohabat hi nahi toh rokte kyu hoTanhayi mein mere baare mein sochte kyu ho Jab manjile hi juda h toh jane do mujheLot ke kab aaoge ye puchte ...

0
प्यार नहीं था और ना ही दोस्ती थी
0

https://www.youtube.com/embed/rS7-vpdtNDM प्यार नहीं था और ना ही दोस्ती थीदोनो को बस आदत थीरोज़ सुबह फोन पे बात करना पहले टाईम पास थालेकिन अब ज़रूरत ...

0
रिश्तो से मुकर जाना दस्तूर है….
4

रिश्तो से मुकर जाना दस्तूर है दुनिया कामोहोब्बत जिन से हो जाये वो दिलो से नहीं जाते।

0
ताउम्र गम उठाने के हम …..
1

कुछ दिन तो मलाल मोहोब्बत मैं फ़र्ज़ हैताउम्र गम उठाने के हम भी शौकीन नहीं।

0
ख़ामोशी बढ़ गयी है इस्कदर…..
1

ख़ामोशी बढ़ गयी है इस्कदरकी सन्नाटो की भी चीखे सुनाई पड़ती हैं।

0
एक शोर है मुझ मैं….
2

एक शोर है मुझ मैंजो खामोश बहोत है।

0
जो कभी हो नहीं सकता …….
0

जो कभी हो नहीं सकता मेराफिर क्यों वही अपना लगता है।  

0
एक खलिश मेरे दिल…..
-1

एक खलिश मेरे दिल में कुछ यु रह गयीज़िन्दगी मैं ज़रा ज़िन्दगी कुछ कम रह गयी।  

0
घर से दूर मैं….
0

घर से दूर मैं आसमा नापने निकलापर एक घोसला हर शाम याद आता है।