Tag: ghazal
0
कोई ग़ज़ल सुना कर क्या करना
1

कोई ग़ज़ल सुना कर क्या करना,यूँ बात बढ़ा कर क्या करना।तुम मेरे थे, तुम मेरे हो,दुनिया को बता कर क्या करना।तुम साथ निभाओ चाहत से,कोई रस्म निभा कर क्या करना।तुम ...

0
अनदेखे धागों से
2

https://www.youtube.com/embed/VRyb93k1lRc अनदेखे धागों से,कुछ यू बांध गया मुझको,कि वो साथ ही नहीं,और हम आजाद भी नहीं|

0
याद आने की वजह भी
0

https://www.youtube.com/embed/wviRWEfEBsE याद आने की वजह भी,बहुत अजीब है तुम्हारी|तुम वो गैर थे, जिसने मैंने,पल भर में अपना माना था|

0
टूट कर चाहना, और फिर टूट जाना.
2

https://www.youtube.com/embed/7D_GtTVH3hg टूट कर चाहना, और फिर टूट जाना.बात छोटी सी है मगर जान,निकल जाती हैमुझे जिंदगी का इतना तजुर्बा तो नहीं,पर सुना है ...

0
जरा देखो दरवाजे पे
1

https://www.youtube.com/embed/wMCLjnEEvqM जरा देखो दरवाजे पे,दस्तक किसने दी है?अगर इश्क़ हो तो कहना,यहां दिल नहीं रहता |