तन्हाई
0
चिराग से ना पूछो वाकी तेल कितना है
0

चिराग से ना पूछो वाकी तेल कितना है सांसो से ना पूछो वाकी खेल कितना है पूछो उस कफ़न में लिपटे मुर्दे से जिंदगी में गम और कफ़न में चैन कितना है

0
रह न पाओगे भुलाकर देखलो
0

रह न पाओगे भुलाकर देखलो यकीं ना आये तो आजमा कर देखलो हर जगह महसूस होगी मेरी कमी अपनी महफ़िल को कितना भी सजा कर देखलो

0
तेरी धड़कन ही जिंदगी का किस्सा है मेरा
0

तेरी धड़कन ही जिंदगी का किस्सा है मेरा तू जिंदगी का अहम् हिस्सा है मेरा मेरी मोहब्बत तुझसे सिर्फ लफ्जो की नहीं है तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा

0
उनका भी हम कभी दीदार करते है
0

उनका भी हम कभी दीदार करते है उनसे भी कभी हम प्यार करते है क्या करे जो उनको हमारी जरुरत ना थी पर फिर भी हम उनका इन्तजार करते है

0
चमन से बिछड़ा हुआ एक गुलाब हूँ
0

चमन से बिछड़ा हुआ एक गुलाब हूँ में मै खुद ही अपनी तबाही का जवाब हूँ यूँ निगाहें ना फेर मुझसे ऐ मेरे महबूब मैं तेरी चाहतो में ही हुआ बर्बाद हु

0
किसी की यादों को रोक पाना मुश्किल है
0

किसी की यादों को रोक पाना मुश्किल है रोते हुए दिल को मनाना मुश्किल है ये दिल अपनों को कितना याद करता है ये कुछ लफ्जो में बयां करना मुश्किल है

0
कहाँ जायँगे जिंदगी का कारवां लेकर
0

कहाँ जायँगे जिंदगी का कारवां लेकर युहीं रह जायँगे एक तनहा जहां लेकर चाँद तारे जब ओझल हो चुके है नजरो से क्या करंगे हम अब सारा आसमां लेकर

0
दिल तड़पता रहा और वो जाने लगे
0

दिल तड़पता रहा और वो जाने लगे संग गुजरे हर लम्हे याद आने लगे खामोश नजरो से जब मुड़कर देखा उसने तो भीगी पलकों से हम भी मुस्कराने लगे

0
जो एक ही दुनिया में रहकर मिलने को तरसते है
0

खुशनसीब होते है बादल जो दूर रहकर भी जमीन पर बरसते है और एक बदनसीब हम है जो एक ही दुनिया में रहकर मिलने को तरसते है

0
अब बस जो कुछ मेरा है उसे मेरा ही रहने दे
0

बहुत कुछ खो चुके ऐ जिंदगी तुझे सवारने की कोशिश में अब बस जो कुछ मेरा है उसे मेरा ही रहने दे

0
लिखना था कि खुश है तेरे बगैर भी हम
0

लिखना था कि खुश है तेरे बगैर भी हम मगर कमब्खत आंसू है कि कलम से पहले चलते है

0
माना कि मोहब्बत की यह भी एक हकीकत है फिर भी
0

माना कि मोहब्बत की यह भी एक हकीकत है फिर भी जितना तुम बदले हो उतना नहीं बदला जाता