Love Shayari

दिल के सागर में लहरें उठाया ना करो

दिल के सागर में लहरें उठाया ना करो,
ख्वाब बनकर नींद चुराया न करो,
बहुत चोट लगती है मेरे दिल को,
तुम ख़्वाबों में आ कर यु तड़पाया न करो..

  • Article By :
    Real Shayari Ek Koshish hai Duniya ke tamaan shayar ko ek jagah laane ki.

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*