अपनी कलम से

अपनी कलम से दिल से दिल तक की बात करते हो
सीधे सीधे कह क्यों नहीं देते हम से #प्यार करते हो।

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      %d bloggers like this: