खबर सबको थी

खबर सबको थी
मेरे कच्चे मकान की ,
फिर भी लोगो ने दुआओ में
बरसात ही मांगी।

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      %d bloggers like this: