Latest Posts
0
Meri Mohabbaat Hai Woh Koi Majboori To Nahin
0

Meri Mohabbaat Hai Woh Koi Majboori To Nahin, Woh Mujhee Chahe Ya Mil Jayee, Zaroori Too Nahin, Yeh Kuch Kam Hai Ke Base Hai Meri Saanson Mein, Woh Saaamne ...

0
चुपके से आकर इस दिल में उतर जाते हो,
0

चुपके से आकर इस दिल में उतर जाते हो, सांसों में मेरी खुशबु बन के बिखर जाते हो, कुछ यूँ चला है तेरे ‘इश्क’ का जादू, सोते-जागते तुम ही तुम नज़र आते हो

0
दिल के सागर में लहरें उठाया ना करो
0

दिल के सागर में लहरें उठाया ना करो, ख्वाब बनकर नींद चुराया न करो, बहुत चोट लगती है मेरे दिल को, तुम ख़्वाबों में आ कर यु तड़पाया न करो..

1
एहसास के दामन में आंसू गिराकर देखो
0

एहसास के दामन में आंसू गिराकर देखो,प्यार कितना है आजमा कर देखो,तुम्हें भूल कर क्या होगी दिल की हालत,किसी आईने पे पत्थर गिराकर तो देखो

0
Dil Ke Rishte Ka Koi Naam Nahi Hota
0

Dil ke rishte ka koi naam nahi hota,Maana ki iska kutch anjaam nahi hota,Agar nibhane ki chahat ho dono taraf,To kasam se koi rishta naakam nahi hota. 

0
कि तुझसे भी खूबसूरत हो सवेरा तेरा
0

फूलों की वादियों में हो बसेरा तेरा, सितारों के आँगन में हो घर तेरा, दुआ है एक दोस्त की एक दोस्त को, कि तुझसे भी खूबसूरत हो सवेरा तेरा

0
Jo Mile Khwaab Mein Wahi Daulat Ho
0

Tum hakiqat nahi hasrat ho, Jo mile khwaab mein wahi daulat ho, Kis liye dekhti ho ayina, Tum toh khuda se bhi jyada khoobsurat ho

0
तुम्हें धरती पर भेजकर वो कैसे जी पाया है
0

पलकों को जब-जब आपने झुकाया है, बस एक ही ख्याल दिल में आया है, कि जिस खुदा ने तुम्हें बनाया है, तुम्हें धरती पर भेजकर वो कैसे जी पाया है

0
सच तो ये है कि खुद चाँद आप जैसा है
0

इस प्यार का अंदाज़ कुछ ऐसा है, क्या बताये ये राज़ कैसा है, कौन कहता है कि आप चाँद जैसे हो, सच तो ये है कि खुद चाँद आप जैसा है

0
Tujhe Palko Pe Bithane Ko Jee Chahta Hai
0

Tujhe palko pe bithane ko jee chahta hai Teri baho se lipatne ko jee chahta hai, Khubsurti ki intehaa hain tu, Tuje zindagi me basane ko jee chahta hai